;

प्रथम कड़ी

प्रियंका राव अभी हाल ही में पुलिस अकादमी से स्नातक बन कर निकली है। .प्रियंका राव ने आग्नेयास्त्रों में उत्कृष्ट अंक प्राप्त किए हैं, निहत्थे मुकाबला करने की अद्भुत कलाए साथ साथ वह बेहद प्रतिभाशाली है। लेकिन साथ ही वह एक बदनाम यौन-पिपासु है जो अकादमी के हर पुरुष से काफ़ी चुदी है और उसके कुछ साथी लड़कियों से समलिंगी सम्बंध भी रहे हैं।

इसलिए जब नगर में एक विशेष अपराधी दमन दल का गठन किया गया तो एक नशीले पदार्थों के तस्कर बाबू घोष, जो एक खास तरह की लड़कियों का शौकीन है, को पकड़ने के लिए प्रिया को चुना गया। इस काम के लिए प्रिया सर्वथा उप्युक्त भी है और …

प्रिया एक मुठभेड़ विशेषज्ञ है लेकिन कुछ अलग किस्म की !


टिप्पणियाँ