;

माया

वह अविस्मरणीय रूप से लाजवाब है, बंदूक चलाना उसके बायें हाथ का खेल है, एकदम चुस्त चालाक और बुरे से बुरे हालातों में भी वह अपने लिए सेक्स का मज़ा पा ही लेती है. लेकिन उसे देख पाना हर एक के लिए सम्भव नहीं, फिर भी कुछ तो हैं जो उसे छू पाते हैं. जो उसे छू लेते हैं, वे इस दुनिया में नहीं रहते. उसका नाम है माया, वह एक गुप्त एजेन्ट है!

एक गुप्त एजेन्ट की बेटी अपने पिता के पदचिह्नों पर चलते हुए उसी गुप्त एजेन्सी का हिस्सा बनी, यही सबसे अच्छा तरीका था जिससे वह अपने पिता और पूरे परिवार के हत्यारे का पता लगा सकती थी. साथ ही वह अपने काम में माहिर थी, अपराध के दमन में सेक्स बम थी. एजेन्सी में उसका काम था देश में सबसे खतरनाक अपराधियों, विकृत क्रूर मर्दों औरतों को उत्तेजित करना. लेकिन माया के लिए कुछ भी घृणित नहीं था, वह अपने काम में पूरा मज़ा लेती थी.